[HP Shagun Yojana] हिमाचल प्रदेश शगुन योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन || हिमाचल प्रदेश शगुन योजना रजिस्ट्रेशन || HP Shagun Yojana Online Form || विवाह शगुन योजना हिमाचल प्रदेश पात्रता, लाभ और आवेदन की जानकारी इस लेख में दी गयी है। इस विवाह शगुन योजना के अंतर्गत पंजीकरण करने पर आपको हिमाचल सरकार 31000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान करेगी। इस योजना की सम्पूर्ण जानकारी इस लेख में दी गयी है।

हिमाचल प्रदेश शगुन योजना 2022: Shagun Yojana

आज भी देश में ऐसे बहुत सारे मामले है जिसमे माँ-बाप की आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण बालिका/ कन्या के विवाह नहीं हो पाता है और अगर होता है तो ससुराल पक्ष की तरफ से मांगी गयी दहेज के कारण उन्हें ससुराल में कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। देहज लेना और देना हमारे देश में गैरकानूनी है फिर भी हमें कई सारे मामले सुनने को मिलते है।

गरीब परिवार अपनी बेटी की शादी अच्छे से कर सके इस बात को सुनिश्चित करने के लिए हिमाचल प्रदेश सरकार ने एक ऐसी योजना का शुभारंभ किया है जो कि आर्थिक रूप सेे कमजोर परिवार की कन्याओं को उसके विवाह में एक आर्थिक सहायता प्रदान की जायेंगी। इस योजना का नाम है हिमाचल प्रदेश शगुन योजना है। आज हम इस लेख में आपको इस योजना के उद्देश्य, लाभ, पात्रता, मुख्य दस्तावेज और इस योजना में किस प्रकार आवेदन किया जायें इसके बारें में आपको विस्तार से बतायेंगें। इस योजना की सही जानकारी कोेेेेेेेे जानने के लिए आपको इस लेख को अंत तक पढ़ना होंगा।

Vivah Anudan Yojana

हिमाचल प्रदेश शगुन योजना क्या हैं?

आओ अब इस योजना के बारे में विस्तार से जाने। इस योजना का संचालन हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा 01 अप्रैल 2021 से शुरू किया गया हैं। इस योजना में वह लड़कियां जो गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करती है और जिनका परिवार विवाह करने में सक्षम नहीं हैं उन परिवारों को लड़की की शादी करनें पर 31000 रूपये की अनुदान राशि हिमाचल सरकार देती है।

इस योजना का लाभ उठाने के लिए कन्या के माता-पिता के द्वारा एवं बेसहारा होने की स्थिति में कन्या द्वारा स्वंय बाल परियोजना अधिकारी, प्रभारी नारी सेवा सदन, या बालिका आश्रम में अध्यक्ष द्वारा निर्धारित प्रपत्र में किया जा सकता है। आवेदन करने के बाद अधिकारी द्वारा सत्यापित किया जायेंगा।

इस योजना का आवेदन विवाह के दो महीने पहले या विवाह के छः महीने के भीतर भी किया जा सकता है। आवेदन की राशि आवेदक के सीधे बैंक में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से की जायेंगी। इस योजना का लाभ कन्या को तब भी मिल सकता है अगर कन्या का विवाह हिमाचल प्रदेश के बाहर हो रहा है। इस योजना का लाभ उठाने के लिए वर की उम्र 21 वर्ष और वधू की उम्र 18 वर्ष (अब यह 21 वर्ष होने जा रही है) से अधिक होनी चाहिए।

See also  (रजिस्ट्रेशन) मध्य प्रदेश बेरोजगारी भत्ता 2022: MP Berojgari Bhatta Online Registration

Highlights of HP Shagun Yojana 2022

योजना का नाम हिमाचल प्रदेश शगुन योजना
शुरू की गई हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा
लाभार्थी गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करने वाली कन्याएं
योजना शुरू की गई 01 अप्रैल 2021
उद्देश्य गरीब परिवार की बालिका के विवाह में आर्थिक सहायता देना
सहायता राशि 31000 रूपये
वर्ष 2022
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन / ऑफलाइन
ऑफिसियल वेबसाइट edistrict.hp.gov.in

हिमाचल प्रदेश शगुन योजना 2022 के उद्देश्य क्या है?

शगुन योजना का मुख्य उद्देश्य गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करने वाली कन्याओं के विवाह पर अनुदान राशि प्रदान करना है। जिससे कन्याओं के जीवन स्तर में सुधार आयेंगा और कन्या सशक्त और आत्मनिर्भर बन सकेंगी। यह राशि कन्या के माता-पिता को प्रदान की जाती है और अगर कन्या के माता-पिता नहीं है तो कन्या स्वंय ही इस योजना के लिए आवेदन कर सकती है। यह योजना से महिला सशक्तिकरण में नई दिशा दिखाई देंगी।

हिमाचल प्रदेश शगुन योजना 2022 के लाभ एवं विशेषतायें

  • इस योजना का शुभारंभ हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर द्वारा किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से प्रदेश के बीपीएल परिवारों की कन्याओं के विवाह पर आर्थिक सहायता प्रदान करना है।
  • राज्य सरकार अनुदान के रूप में 31000 रूपये प्रदान करती है।
  • इस योजना का संचालन 1 अप्रैल 2021 से संपूर्ण राज्य में शुरू किया जा चूका है।
  • कन्या के माता-पिता या अभिभावक इस योजना का अन्तर्गत आवेदन कर सकते है।
  • यदि कन्या के माता-पिता नहीं है तो कन्या स्वंय भी इस योजना में आवेदन कर सकती है।
  • आवेदन करने के बाद अधिकारी द्वारा सत्यापित किया जायेंगा।
  • इस योजना का लाभ विवाह से दो महीने पहले और विवाह के छः महीने के भीतर उठा सकते है।
  • इस योजना की राशि कन्या के सीधे बैंक में ट्रांसफर की जायेंगी वह भी डाइरेक्ट बेनिफिट के माध्यम से की जाएगी।
  • यदि कन्या हिमाचल प्रदेश के बाहर किसी अन्य राज्य में विवाह करती है तो भी इस योजना का लाभ उठा सकती है।
See also  PMJAY प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना 2022 रजिस्ट्रेशन, नई लिस्ट, Jan Arogya List PDF

हिमाचल प्रदेश शगुन योजना पात्रता और आवेदन की क्या शर्तें है?

यदि आप भी हिमाचल प्रदेश राज्य के निवासी है और इस योजना के लिए आवेदन करने की सोच रहे है तो नीचे दी गई पात्रता की अवश्य जाँच करे:

  • आवेदक हिमाचल प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए कन्या की उम्र 18 वर्ष (नए कानून के हिसाब से यह उम्र अब 21 वर्ष हो सकती है) या उससे अधिक होनी चाहिए और वर की उम्र 21 वर्ष होनी चाहिए।
  • कन्या का नाम ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल पर पंजीकृत होना चाहिए।
  • आवेदक बीपीएल परिवार से होनी चाहिए।
  • विधवा महिला भी इस योजना का लाभ उठा सकती है।

Important Documents for HP Shagun Yojana Apply Online

आवेदिका का आधार कार्ड आयु प्रमाण पत्र निवास प्रमाण पत्र
बीपीएल कार्ड मोबाईल नंबर जाति प्रमाण पत्र
पासपोर्ट साईज फोटो शादी की प्रस्‍तावित तिथि सबंधी कागजात विवाह प्रमाण पत्र (पहले विवाह हो जाने पर)

हिमाचल प्रदेश शगुन योजना आवेदन कैसे करें?

आवेदन प्रक्रिया: इस योजना को दो प्रकार से आवेदन कर सकते हैं पहला ऑफलाइन आवेदन। इस प्रक्रिया में आवेदक को अपने नजदीकी आंगनबाड़ी केन्द्र मे जाकर इस हिमाचल प्रदेश शगुन स्कीम का आवेदन पत्र प्राप्त करना होंगा। इसके बाद आवेदन फार्म में पूछी गयी सारी जानकारियों को भरना होंगा और अपने सभी दस्तावेज को इस फार्म के संलग्न करना होंगा। इसके बाद आपको यह फार्म आगंनबाड़़ी केन्द्र में जमा करना होंगा। इस प्रकार आप इस योजना का आवेदन कर पायेंगें।

दूसरा तरीका ऑनलाइन है, जिसके आवेदन की प्रक्रिया नीचे दी गई है:

  • ऑनलाइन आवेदन के लिए हिमाचल ऑनलाइन सेवा की ऑफिसियल वेबसाइट [https://edistrict.hp.gov.in/] पर जाना होंगा।
  • इस वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • होमपेज पर जाकर आपको “सिटीजन लॉगइन” पर क्लिक करना होगा।
  • जिसके बाद आपके सामने “न्यू रजिस्ट्रेशन New Registration” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस विकल्प पर आपको इस आवेदन में पूछी गयी सभी जानकारियों को सावधानीपूर्वक भरना होंगा जैसेः- आवेदिका का आधार कार्ड, फैमिली आईडी, नाम, जेंडर, डेट ऑफ बर्थ, मोबाईल नंबर, पिता का नाम, राज्य, जिला, तहसील, ईमेल आईडी, लॉगिन आईडी, सिक्योरिटी क्वेश्चन और आंसर आदि।
  • इसके बाद आपको अपनी फोटो को अपलोड करना होंगा।
  • इसके बाद आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होंगा।
  • अब सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होंगा।
  • सबमिट पर क्लिक करने के बाद आप हिमाचल प्रदेश शगुन योजना के अन्तर्गत आवेदन कर पायेंगे।
    ऑनलाइन आवेदन के बाद सम्बंधित अधिकारी आवेदन फॉर्म की पात्रता और अन्य शर्तों की जाँच करेगा और उसके बाद सहायता राशि कर दी जाएगी।
See also  [रजिस्ट्रेशन] हरियाणा सक्षम योजना 2022: Haryana Saksham Yojana Online Form

Direct Links for HP Shagun Scheme Registration

इस प्रकार आपको आज हमने शगुन योजना हिमाचल प्रदेश के बारें में बताया। आशा करते है आपको यह लेख पंसद आयेंगा। आगे भी हम आपको ऐसी ही कई सरकारी योजनाओं के बारें में बतायेंगे। जिससे आपको बिना किसी परेशानी के नई योजनाओं के बारें में पता चलता रहेगा।

FAQs: हिमाचल प्रदेश शगुन योजना

प्रश्न: हिमाचल प्रदेश शगुन योजना के लिए कौन-कौन आवेदन कर सकता है?

उत्तर: इस योजना के लिए हिमाचल प्रदेश के स्थायी निवासी गरीब रेखा नीचे जीवन यापन करने वाले अपनी कन्या के विवाह के लिए आर्थिक सहायता हेतु आवेदन कर सकते है।

प्रश्न: इस योजना के लिए क्या एक विधवा भी आवेदन कर सकती है?

उत्तर: जी हाँ, यह योजना विधवा महिलाओं के लिए भी है।

प्रश्न: दूसरे राज्य में विवाह करने पर इस योजना का लाभ मिलेंगे गए क्या?

उत्तर: हाँ इस योजना का लाभ दूसरे राज्य में विवाह करने पर भी मिलेगा।

प्रश्न: हिमाचल प्रदेश शगुन योजना 2022 के अंतर्गत कितनी राशि मिलेगी?

उत्तर: राज्य सरकार कुल 31000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान करेगी।

प्रश्न: क्या विवाह होने के बाद भी योजना के लिए आवेदन किया जा सकता है?

उत्तर: हाँ, विवाह होने के बाद छः माह के अंदर तक आवेदन किया जा सकता है। और विवाह के दो माह पहले भी आवेदन किया जा सकता है।

यदि हिमाचल प्रदेश कन्या विवाह योजना और शगुन योजना || Shagun Scheme Himachal से सम्बंधित कोई सवाल है तो नीचे कमेंट कर हमसे जानकारी प्राप्त कर सकते है।

By SkylarBlue

We are professionals in software, website, and blogging our website is www.aboutsarkariresults.com, and the second is www.trendvideos.online. You can contact us via email at skylarblueh7@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.